हिंदी दिवस पर निबंध । Essay on Hindi Diwas- हिंदी दिवस की पूरी जानकारी एक लेख में

हिंदी दिवस (Hindi Diwas) – भारत दुनिया में सबसे ज्यादा विविध संस्कृतियों वाला देश है। धर्म, परंपराओं और भाषा में इसकी विविधता के बावजूद यहां के लोग एकता में विश्वास रखते हैं। हिंदी भारत की सबसे प्रमुख भाषा है। दुनियाभर में हिंदी भाषा चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। भारत में विभिन्न भाषाएं बोली जाती हैं, लेकिन सबसे ज्यादा हिंदी भाषा बोली, लिखी व पढ़ी जाती है। वर्ष 1949 में हिंदी को हमारे देश में सर्वोच्च दर्जा प्राप्त हुआ और तब से हिंदी को हमारी राष्ट्रभाषा माना जाता है।

हिंदी भाषा को सम्मान देने के लिए 10 जनवरी को प्रतिवर्ष विश्व हिंदी दिवस (World Hindi Diwas) मनाया जाता है। ध्यान रहे कि राष्ट्रीय हिंदी दिवस हर वर्ष 14 सितंबर को मनाया जाता है। विश्व हिंदी दिवस (World Hindi Diwas) की जानकारी भी इस लेख में नीचे उपलब्ध है।

हिंदी दिवस पर निबंध/भाषण कैसे लिखे?

हिंदी दिवस हमें यह याद दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है कि हिंदी भाषा दुनिया की सबसे पुरानी भाषाओं में से एक है और प्रत्येक भारतीय को अपनी मातृभाषा में बोलने पर गर्व महसूस करना चाहिए। गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा हिंदी दिवस के अवसर पर 14-15 सितंबर 2022 को दूसरा अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन गुजरात के सूरत में आयोजित किया जा रहा है। पहला अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन 13-14 नवंबर, 2021 को वाराणसी में आयोजित किया गया था। वर्ष 2022 में 14 सितंबर से 29 सितंबर तक हिंदी पखवाड़े का आयोजन देशभर में किया जा रहा है। इस संदर्भ में कई तरह के आयोजन किए जाते हैं, जिनमें अच्छा प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत और सम्मानित भी किया जाता है। हिंदी दिवस 2022 के इन कार्यक्रमों में हिंदी निबंध प्रतियोगिता, अनुवाद प्रतियोगिता, हिंदी ज्ञान प्रतियोगिता, हिंदी टिप्पण एवं आलेखन प्रतियोगिता, हिंदी दिवस भाषण प्रतियोगिता आदि शामिल हैं।

Table of content

हिंदी दिवस पर भाषण/निबंध

साथियों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज हम सब हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में यहां उपस्थित हुए हैं। हममें से अधिकतर लोग यह भी जानते होंगे कि राष्ट्रीय हिंदी दिवस हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है। भारत अनेकता में एकता वाला देश है। अपने विविध धर्म, संस्कृति, भाषाओं और परंपराओं के साथ, भारत के लोग सद्भाव, एकता और सौहार्द के साथ रहते हैं। भारत में बोली जाने वाली विभिन्न भाषाओं में, हिंदी सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली और बोली जाने वाली भाषा है।

वर्ष 2001 में रिकॉर्ड के अनुसार, लगभग छब्बीस करोड़ नागरिक हिंदी में बात करते हैं। हिंदी को 14 सितंबर 1949 को भारत की राष्ट्रीय भाषा के रूप में अपनाया गया तब से हिंदी भाषा को एक उच्च दर्जा प्राप्त हुआ और इसी उपलक्ष्य में हम प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाते हैं।

हिंदी एक इंडो-आर्यन भाषा है, जिसे देवनागरी लिपि में भारत की आधिकारिक भाषाओं में से एक के रूप में लिखा गया है। राजेंद्र सिंह, हजारी प्रसाद द्विवेदी, काका कालेलकर, मैथिलीशरण गुप्त और सेठ गोविंद दास गोविंद जैसे लोगों ने हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा बनाए जाने के पक्ष में कड़ी पैरवी की थी। भारतीय संविधान के आधार पर, अनुच्छेद 343 के अनुसार, हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया गया था। हमारी मातृभाषा हिंदी और देश के प्रति सम्मान दिखाने के लिए ही हिंदी दिवस का आयोजन किया जाता है।

हिंदी दिवस पूरे भारत में बहुत उत्साह और गर्व के साथ मनाया जाता है। शिक्षण संस्थानों से लेकर सरकारी दफ्तरों तक सभी हमारी राष्ट्रभाषा को सम्मान देते हैं।

इतिहासकारों का मानना है कि हिन्दी विद्वानों द्वारा अपनी महान साहित्यिक कृतियों में प्रयोग की जाने वाली प्रमुख भाषा रही है। रामचरितमानस एक साहित्यिक कृति है जो हिंदी में भगवान राम की कहानी का वर्णन करती है और गोस्वामी तुलसीदास की सबसे महत्वपूर्ण कृतियों में से एक है, जिसे 16 वीं शताब्दी में लिखा गया था। हिंदी सबसे आदिम भाषाओं में से एक है जो मूल रूप से संस्कृत भाषा से संबंधित है। अतीत से, हिंदी एक भाषा के रूप में विकसित होकर हमारी राष्ट्रभाषा बन गई है।

वर्ष 1917 में, महात्मा गांधी ने भरूच में गुजरात शिक्षा सम्मेलन में प्रस्तुत एक भाषण में हिंदी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने जोर देकर कहा कि हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए और अर्थव्यवस्था, धर्म एवं राजनीति के लिए संचार के रूप में भी इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

हमारे समाज में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें पता नहीं होता है कि हिंदी दिवस कैसे मनाया जाता है? मैं आपको बता दूं की देश के सर्वप्रथम प्रधानमंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने पहली बार 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाने का फैसला किया था। हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में भारत के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों में हिंदी साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों, प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता हैं जिसमें छात्र बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। जहां छात्र हिंदी में विभिन्न कविताओं का पाठ करते हैं तथा हिंदी निबंध पढ़कर हिंदी भाषा को गर्वान्वित करते हैं। हिंदी दिवस के इस अवसर पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं और हिंदी में कहानियां पढ़ी जाती हैं। हमारे लिए यह बहुत सम्मान की बात है कि हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दोनों प्लेटफार्मों में लोकप्रियता हासिल कर रही है।

आज के आधुनिक समय में लोग पश्चिमी सभ्यता से काफी प्रभावित हुए हैं। हिन्दी भाषा का महत्व समाप्त होता जा रहा है। हिंदी दिवस लोगों को उनकी जड़ों से जोड़े रखता है और लोगों को उनकी मूल संस्कृति की याद दिलाता है। ऐसे कई भारतीय हैं जो आज भी भारतीय संस्कृति को बनाए रखने में गर्व महसूस करते हैं।

हिंदी दिवस पर 10 पंक्तियाँ याद रखे(Remember 10 Lines on Hindi diwas)

1. हिंदी आधुनिक इंडो-आर्यन भाषाओं के दायरे में आती है।

2. हिंदी के पुराने संस्करण हिंदुस्तानी, हिंदवी और खारी-बोली थी जो 10 वीं शताब्दी ईस्वी में बोली जाती थीं।

3. हिंदी दिवस एक ऐसा दिन है जो हिंदी को उसकी उचित पहचान देता है और इसे विलुप्त होने से बचाने के लिए मनाया जाता है।

4. हिंदी साहित्य सम्मेलन के दौरान राष्ट्रभाषा के रूप में हिंदी की सिफारिश करने वाले महात्मा गांधी सबसे पहले व्यक्ति थे।

5. दुनिया भर में लगभग 80 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं।

6. हिंदी विश्व की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है।

7. हिंदी दिवस 14 सितंबर 1949 से मनाया जा रहा है।

8. हिंदी दिवस उन लोगों द्वारा एक त्योहार की तरह मनाया जाता है जो हिंदी पसंद करते हैं एवं बोलते हैं साथ ही यह युवाओं को उनकी जड़ों और संस्कृति के बारे में याद दिलाने का एक तरीका है।

9. देवनागरी लिपि पर लिखी गई हिंदी, हिंदी का वास्तविक रूप धारण करती है जिसे भारत के संविधान ने अपनाया था।

10. हिन्दी का इतिहास लगभग 1000 वर्ष पुराना है।

हिंदी भाषा के बारे में रोचक तथ्य (Interesting facts about Hindi language)

5वीं सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा – हिंदी चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। यह दुनिया भर में लगभग 80 करोड़ लोगों द्वारा बोली जाती है।

हिंदी को अपनाने वाला बिहार पहला राज्य है – वर्ष 1881 में, बिहार ने उर्दू को हिंदी के साथ अपनी एकमात्र आधिकारिक राज्य भाषा के रूप में बदल दिया, इस प्रकार, हिंदी को अपनी आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाने वाला भारत का पहला राज्य बन गया।

क्या हिंदी सीखना आसान है? – हिंदी वर्णमाला के प्रत्येक अक्षर की अपनी स्वतंत्र और विशिष्ट ध्वनि होती है। परिणामस्वरूप, हिंदी शब्दों का उच्चारण ठीक वैसे ही किया जाता है जैसे वे लिखे जाते हैं, जिससे हिंदी भाषा सीखना आसान हो जाता है।

Frequently Asked Question (FAQs) – हिंदी दिवस पर भाषण/निबंध

Q.  हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?
Ans. हिंदी दिवस 14 सितंबर को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

Q. विश्व हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?
Ans. विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

Important Links :-

Chapter wise Quiz Click here
Telegram Channel Click here
For More Information Click Here

Related posts:

BSEB कक्षा 10 विज्ञान 2024 बोर्ड परीक्षा के लिए 5 अंक के Important Question
Bihar Board Class 12 Biology Question Paper 2024 Last Minute
बिहार में साक्षरता दर क्या है ? Bihar Ki Saksharta Dar ? बिहार राज्य की साक्षरता दर क्या है ?
जानें कैसे करनी होगी तैयारी जिससे Physics लगने लगे Easy : Bihar Board Exam 2024
Bihar Board Exam Me Copy Kaise Likhe ? बोर्ड परीक्षा में कॉपी लिखने का सही तरीका जाने
BSEB Board: 10th के Science पेपर में पूछे गए थे ये Questions, इस बार इनसे मिलते-जुलते आ सकते हैं Que...
रक्षाबंधन पर निबंध (Essay on Raksha Bandhan) - रक्षाबंधन पर निबंध हिंदी में कैसे लिखें
HAPPY NEW YEAR 2024:चूहा निकला बिल से हैप्पी न्यू ईयर दिल से...यहां देखें हैप्पी न्यू ईयर 2024 wishe...
BSEB Class 10 Math Exam 2024 में पूरे अंक प्राप्त करने के लिए 60 Days की क्रियान्वयन योजना एवं समझने...
Bihar Board 12th Hindi Syllabus । बिहार बोर्ड कक्षा 12वी हिंदी पाठ्यक्रम, अंकन योजना और परीक्षा पैटर...

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!